France Nersac Where woman left her 9 years old child in home alone for 2 years culprit mom punished


France Mother Left Child For 2 Year: फ्रांस के नर्सेक शहर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक 39 साल की मां ने अपने 9 साल के बेटे को 2 साल तक एक फ्लैट में अकेले रहने के लिए छोड़ दिया. बच्चा पड़ोसियों के घर से चोरी कर खाना खाता था. इस मामले पर स्थानीय कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए आरोपी मां को पिछले हफ्ते 18 महीने जेल की सजा सुनाई. 

मिली जानकारी के अनुसार, जिस फ्लैट में बच्चा बंद था उस फ्लैट से आरोपी महिला 5 किमी दूर अपने प्रेमी के साथ दूसरे फ्लैट में रहती थी. वो समय-समय पर बच्चे से मिलने भी आ जाती थी.

2 साल तक अकेला रहा बच्चा

CNN के मुताबिक इस महिला की पहचान एलेक्जेंड्रा के तौर पर की गई है. बताया जा रहा है कि महिला ने अपने बच्चे को साल 2020 से 2022 तक फ्लैट में अकेले रहने के लिए छोड़ दिया था. वहीं बच्चा ज्यादातर केक, ठंडे डिब्बाबंद भोजन और पड़ोसी के घर से चोरी किए गए टमाटर पर ही निर्भर रहता था.

दूसरी ओर, मां अपने प्रेमी के साथ 5 किलोमीटर दूर दूसरे अपार्टमेंट में रहती थी. महिला का बेटा फ्लैट में अकेला रहता था, जिसमें बिजली या गर्म पानी तक का इंतजाम नहीं था, ऐसे हालातों में भी बच्चा खुद स्कूल जाता रहा, जिससे स्कूल में टीचरों को भी इस बात का शक नहीं हुआ कि वो घर पर अकेला रह रहा था.

मेयर को मां की बातों पर हुआ शक
नर्सेक शहर के मेयर बारबरा कॉट्यूरियर ने कहा कि जिस फ्लैट में बच्चा अकेला रहता था, वहां गर्म पानी और हीटर तक का इंतजाम नहीं था. बावजूद इसके बच्चा हर दिन स्कूल जाता था. और एक अच्छे स्टूडेंट की तरह पढ़ाई करता था.  मेयर ने बताया कि मई 2022 में आरोपी मां एलेक्जेंड्रा उनसे मिलने आई थी. जिस पर महिला ने बताया कि उसे पैसों की तंगी है. इस पर मेयर ने उसकी मदद के रूप में खाने के 4  वाउचर दिए, लेकिन महिला ने इसके बदले कुछ डिब्बाबंद खाना ले लिया, जिससे मेयर को महिला पर शक हुआ.

मेयर ने औरत को लेकर स्थानीय लोगों से पूछताछ की, जिसके बाद मेयर को पता चला कि फ्लैट में महिला का बच्चा अकेला रह रहा है. मेयर के द्वारा आगे जांच करने पर पता चला कि आरोपी मां अपने नए प्रेमी के साथ 5 किमी दूर रह रही थी. जिसके बाद इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई. हालांकि, इस घटना के बाद बच्चा सुरक्षित है.

कोर्ट ने सुनाई 6 माह की सजा
स्थानीय न्यूज चैनल पीपल के अनुसार, कोर्ट ने आरोपी मां की 12 महीने की सजा को रद्द कर दिया है. ऐसे में उसे बचे हुए छह महीने की सजा सुनाई गई है, जिसे महिला अपने घर पर रहकर ही काटेगी. उधर, मेयर का कहना है कि बच्चा 19 सितंबर, 2022 से एक NGO  की देखरेख में था. इस मामले पर कोर्ट ने आरोपी एलेक्जेंड्रा की इस दलील को खारिज कर दिया कि वह अपने बेटे के साथ फ्लैट में रहती थी. 

ये भी पढ़ें:Ram Temple: OIC ने राम मंदिर पर साधा निशाना तो पाकिस्तानी आवाम ने फटकारा, कहा-‘कोई फर्क नहीं पड़ता, वो तो…'

Leave a Comment